Uttar Pradesh Cast Certificate – यूपी जाति प्रमाण पत्र 2021

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जन जाति के लोगो को कई प्रकार की सुविधा प्रदान की जाती है। परन्तु इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए व्यक्ति का केवल उस जाती का होना ही काफी नहीं है उसे इसका प्रमाण देना भी आवश्यक है। इस प्रमाण को उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र कहा जाता है। जाति प्रमाण पत्र किसी व्यक्ति का जाति से सम्बंधित प्रमाण होता है। इसे अंग्रेजी में कास्ट सर्टिफिकेट कहते है।

स्कूल/ कॉलेज में छात्रवृत्ति लेना हो या फिर सरकारी नौकरी का लाभ उठाना हो, इसके लिए आपको जाति प्रमाण पत्र प्रदान करना होता है। पहले सरकारी कार्यालय में जाकर इसे बनाना पढता था, जिसके लिए लोगो को वहा के कई चक्कर काटने पढ़ते थे। किन्तु अब उत्तर प्रदेश सरकार ने इसकी ऑनलाइन सुविधा प्रदान करदी है।

उत्तर प्रदेश में जिन भी लोगो का जाति प्रमाण पत्र अब तक नहीं बना है वे अब घर बैठे Uttar Pradesh Jati Praman Patra 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

Uttar Pradesh Cast Certificate यूपी जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन फॉर्म

उत्तर प्रदेश के नागरिको को यूपी जाति प्रमाण पत्र बनाना बहुत आवश्यक है क्योंकि इसकी आव्यशकता कई कार्यो में पड़ती है। यूपी सरकार ने अपने राज्य के नागरिकों की सुविधा के लिए ऑनलाइन पोर्टल भी लॉन्च किया है जिसके माध्यम से सभी उम्मीदवार अपना जाति प्रमाण पत्र बना सकेंगे और सरकारी सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे।

आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे की आप उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र 2021 का ऑनलाइन आवेदन कैसे कर सकते है, साथ ही इसके लिए आपको किन-किन दस्तावेजों की जरुरत पड़ेगी। यदि आप इस लेख में दिए गए स्टेप्स को फॉलो करेंगे तो बड़ी ही आसानी से आप ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे।

लेखउत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन
विभागउत्तर प्रदेश राजस्व विभाग
जाति प्रमाण पत्र का लाभ(Benefit)आरक्षण, छात्रवृति
उद्देश्यSC/ST, OBC के वर्गो को समाजिक सुरक्षा प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटedistrict.up.gov.in

Uttar Pradesh Cast Certificate ऑनलाइन आवेदन का उद्देश्य क्या है

हम सभी इस बात से भलीभांति परिचित है कि समाज में पहले से ही अनुसूचित जाति/जनजातियों(SC/ST) के वर्गो के लोगो के साथ अच्छी तरह नहीं पेश आया जाता है। समाज में उनके साथ पहले से ही भेदभाव होता आया है। ना ही इन्हे स्कूल में दाखिला दिया जाता है और ना ही मंदिर में प्रवेश। यही वजह है की निचली जाती के लोग पिछड़ते गए और समाज ने उन्हें पीछे कर दिया।

इस समस्या से निदान पाने के लिए सरकार ने जाति प्रमाण पत्र बनाने के निर्देश दिए। जाति प्रमाण पत्र सिर्फ उनके ही बनेंगे जो अनुसूचित जाति/जनजाति / ओ.बी .सी के होंगे। जाति प्रमाण पत्र की सहायता से निचली जाति के लोगो को शैक्षणिक और कार्य क्षेत्रो में आरक्षण, सरकारी योजना का लाभ, छात्रवृति आदि प्राप्त होती है। सरकार का उद्देश्य यही है की जितने भी राज्य में पिछड़े हुए लोग है उन्हें समाज में सही अधिकार प्राप्त होन। इससे नीची जाति और उच्च वर्ग के बीचका भेदभाव ख़तम होगा।

अब सरकारी कार्यालय में बिना जाये भी जाति प्रमाण पत्र बनवाया जा सकता है। जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए गवर्नमेंट ने ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा जारी की है जिससे बिना किसी कठनाई के उम्मीदवार घर बैठे ही जाति प्रमाण पत्र के लिए अर्जी दे सकता है। प्रमाण पत्र बनवाकर यूपी के नागरिक सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते है, जैसे फीस में छूट पाना, सरकारी कॉलेजों में एडमिशन लेना,सरकारी नौकरी पाना आदि। तो आइये जानते है यह फॉर्म आपको कैसे भरना है।

Uttar Pradesh Cast Certificate 2021 ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे

Uttar Pradesh Cast Certificate ऑनलाइन अप्लाई की पूरी प्रक्रिया हम बता रहे है। इसलिए जो भी नागरिक इस प्रमाण पत्र को बनाना चाहते है वो निचे दिए गए स्टेप्स को ध्यान से देखिये।

  •  Uttar Pradesh Jati Praman Patra बनाने के लिए सर्वप्रथम इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाये।
  • ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद उसमे होम पेज खुलेगा जो निचे दिए गए चित्र की तरह दिखाई देगा।
Uttar Pradesh Cast Certificate
  • यदि आपका अकाउंट पहले से नहीं हे तो आपको इस पर अकाउंट बनाना होगा।
  • नया अकाउंट बनाने के लिए पेज के राइट साइड में लिखे गए “नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण?” पर क्लिक कीजिये। यह लिंक आपको ठीक पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन के ऊपर दिखाई देगी।
  • नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण लिंक पर जाने के बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमे आपको भरने के लिए एक आवेदन पत्र मिलेगा।
Uttar Pradesh Cast Certificate
  • इस आवेदन पत्र में आवेदक का पूर्ण नाम, घर का पता, जन्म तिथि, मोबाइल मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी, केप्चा कोड आदि भरकर अकॉउंट बनाना है।
  • समस्त जानकारी आवेदन पत्र में भरने के पश्चात “सुरक्षित करें“ पर क्लिक करे। इससे आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा और आपको भरे गए मोबाइल पर एक O.T.P आएगा।
  • अब आपको फिर से होम पेज जहा से आपने पंजीकरण की शुरुवात की थी उसी पेज पर वापस जाना है, और जहा पंजीकृत उपयोगकर्ता लॉगिन लिखा हुआ है वहा से अपने अकाउंट में लॉगिन कीजिये।
  • लॉगिन फॉर्म में आपको यूजरनेम, पासवर्ड, मोबाइल पर प्राप्त हुआ  O.T.P और केप्चा कोड भरना है। यह सब भरने के पश्चात सबमिट बटन पर क्लिक करना है।
  • अकाउंट में लॉगिन होने के बाद आप “आवेदन भरे ” के विकल्प को चुने। इस विकल्प को चुनने के बाद आपको प्रमाण पत्रों की एक लिस्ट दिखेगी, जिसमे से आपको जाति प्रमाण पत्र का चुनाव करना है।
Uttar Pradesh Cast Certificate
  • जाति प्रमाण पत्र पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने Uttar Pradesh Jati Praman Patra Online Form खुलेगा।
  • एप्लीकेशन फॉर्म में मांगी गयी सम्पूर्ण जानाकरी जैसे की अपना नाम, माता पिता का नाम,  मोबाइल नंबर, वर्त्तमान पता आदि सावधानी पूर्वक भरें।
  • आपको इसके साथ स्केन किये गए फोटो और डाक्यूमेंट्स भी अपलोड करना है।
  • इसके पश्चात “दर्ज करे” बटन को दबाना है। जिससे आपका फॉर्म सबमिट हो जायेगा |
  • आवेदन फॉर्म सबमिट होने के बाद विभाग द्वारा निर्धारित फीस जमा करें।
  • फीस जमा करने के पश्चात आपका आवेदन पत्र निर्धारित दिनों के अंदर बन जायेगा
  • आवेदन फॉर्म तथा फीस भुगतान की रसीद को अपने पास संभाल के रखे।
  • आपका जाति प्रमाण पत्र बनते ही आपको आपके मोबाइल पर सुचना भेज दी जाएगी।
  • सुचना मिलने के बाद आप अपने अकॉउंट में लॉग इन करके अपने जाति प्रमाण पत्र को प्रिंट कर सकते हैं।

Uttar Pradesh Cast Certificate ऑफलाइन आवेदन

यदि आपको ऑनलाइन आवेदन करते नहीं आता है या किसी वजह से आप ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पा रहे है तो आपको जानकारी देना चाहते है की आप ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते है।

  • राज्य के नागरिक को ऑफलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले जिला तहसील जाना होगा।
  • वहा से आपको वे आवेदन पत्र लेना है।
  • इसके बाद आवेदन पत्र/फॉर्म में पूछी गयी सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को बिना किसी त्रुटि के भरना होगा।
  • आवेदन फॉर्म के साथ सम्बंधित डाक्यूमेंट्स को अटैच करना पड़ेगा।

Uttar Pradesh Cast Certificate पत्र की पिछड़े वर्ग को आवश्यकता

अब हम आपको उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र की क्या जरुरत है इसके बारे में बता रहे है। यदि आप उत्तर प्रदेश में रहते है तो आपको इन जरूरतों की जानकारी होना अत्यंत जरुरी है। तो आइये जानते है:-

  • जाति प्रमाण पत्र की सबसे बड़ी जरुरत आपको अपनी जाति का सतयापन करने के लिए पड़ती है।
  • शासकीय नौकरी पाने में भी यह प्रमाण पत्र आपकी सहायता करता है। जाति प्रमाण पत्र होने पर आपको नौकरी के लिए पहले प्राथमिकता मिलती है।
  • स्कूल और कॉलेज में स्कॉलरशिप लेने के लिए आपको इसकी जरुरत पड़ सकती है।
  • अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़े वर्ग के बच्चो के लिए शैक्षिक संस्‍थाओं में कोटा होता है इसके लिए भी आपको जाति प्रमाण पत्र की जरुरत पड़ती है।
  • यूपी सरकार द्वारा चलाई गयी किसी भी योजनाओं में यदि आप आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अपनी जाति का प्रमाण देना होता है।

Uttar Pradesh Jati Praman Patra 2021 के फायदे

  • जाति प्रमाण पत्र का उपयोग दस्तावेजों(डॉक्यूमेंट) की तरह भी किया जाता है। इसे स्कूल और महाविद्यालय में एडमिशन लेने के लिए इसका प्रयोग करते है।
  • जाति प्रमाण पत्र होने पर शैक्षणिक संस्थाओ में फीस में छूट प्राप्त होती है।
  • इससे शासकीय नौकरियों में रिजर्वेशन(आरक्षण) मिलता है।
  • कई तरह की सरकारी योजनाओं में इस दस्तावेज को प्रस्तुत करना पढता है।
  • यदि आप इसे ऑनलाइन बनवा ले तो आपको कार्यालय के चक्कर भी नहीं काटने पढ़ते है।

उत्तर प्रदेश कास्ट सर्टिफिकेट के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स

Uttar Pradesh Cast Certificate पत्र को बनवाने के लिए आवेदकों को कुछ जरुरी दस्तावेजों की आव्यशकता होती  है। इन दस्तावेजों के बिना वे UP Cast Certificate के लिए अर्जी नहीं कर सकते हैं। उन सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों की जानकारी आप निचे लेख में पढ़ सकते है।

  1. आधार कार्ड
  2. राशन कार्ड
  3. स्वप्रमाणित घोषणा पत्र
  4. पासपोर्ट साइज फोटो
  5. मोबाइल नंबर

यूपी जाति प्रमाण पत्र सत्यापन कैसे करे

सरकारी सेवाओं का लाभ उठाने के लिए अब केवल जाति प्रमाण पत्र का होना ही काफी नहीं है, इसका सत्यापन भी जरुरी है। यदि आपके जाति प्रमाण पत्र 2015 के पहले बने हुए है तो आपको इसका सत्यापन करवाना होगा।

प्रमाण पत्र का सत्यापन करने के लिए उम्मीदवार को edistrict की वेबसाइट पर जाना होगा। इस वेबसाइट पर आप अपने प्रमाण पत्र की पुष्टि कर सकते है। तो चलिए जानते है इसकी प्रोसेस क्या है?

  • सबसे पहले आपको edistrict की वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहाँ आपको प्रमाण पत्र के सत्यापन वाले बॉक्स में अपने आवेदन की संख्या भरनी होगी।
  • इसके बाद आपको दर्ज बटन पर क्लिक करना है।
  • बटन पर क्लिक करने के बाद आपको प्रमाण पत्र की स्तिथि का विवरण जान सकते है।

edistrict की साइट के अलावा आप यूपी ऑनलाइन या राजस्व परिषद् की वेबसाइट से भी सत्यापन कर सकते है। जितने भी उम्मीदवार जाति प्रमाण पत्र का ऑनलाइन सत्यापन करना चाहते है वे अंतिम तिथि से पहले सत्यापन कर लें।

उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र 2021 सम्बन्धित प्रश्न तथा उत्तर

प्रश्न 1:उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र के लिए कैसे आवेदन किया जा सकता है ?

उत्तर: यूपी आजाति प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन/ऑफलाइन दोनों ही माध्यम से आवेदन किया जा सकता है।

प्रश्न 2:Uttar Pradesh Jati Praman Patra जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट कौन सी है ?

उत्तर: उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट https://edistrict.up.gov.in है।

प्रश्न 3: क्या जाति प्रमाण पत्र को ऑफलाइन भी बनाया जा सकता हैं ?

उत्तर: जी हाँ, जाति प्रमाण पत्र को आप ऑफलाइन भी बना सकते है इसके लिए आपको सम्बन्धित विभाग में जा कर आवेदन प्रकिया करनी पड़ेगी।

प्रश्न 4: क्या जन सेवा केंद्र जाकर भी जाति प्रमाण पत्र बनाया जा सकता है?

उत्तर: हाँ आप अपने निकट जन सेवा केंद्र जाकर भी जाति प्रमाण पत्र बना सकते है।

प्रश्न 5: उत्तर प्रदेश जाती प्रमाण बनाने का क्या शुल्क है?

उत्तर: यदि आप जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए तहसील कार्यालय में जाते है तो आपको किसी भी तरह का शुल्क नहीं लगेगा। आपको बस आवेदन पत्र के साथ 1.5 रुपये का कोर्ट फीस स्टैम्प लगाना होगा। इसके अतिरिक्त आप यदि ई-जिला स्थानीय सेवा केंद्र के जरिये प्रमाण पत्र बनवाते है तो आपको 20 रुपये का शुल्क देना होगा।

प्रश्न 6: यूपी जाति प्रमाण पत्र की वैधता क्या है?

उत्तर: उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र की वैधता जीवन भर के लिए है जब तक कि आरक्षण को समाप्त नहीं किया जाता।

प्रश्न 7: यदि आवेदकों को यूपी जाति प्रमाण पत्र सम्बन्धित कोई प्रश्न हो तो उन्हें कहाँ सम्पर्क करना होगा ?

उत्तर: उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र से सम्बन्धित प्रश्नो औ रशिकायत दर्ज करने के लिए उम्मदीवारों के लिए हेल्पलाइन नंबर( 0522-2304706) है। आप इस पर सम्पर्क कर सकते है।

प्रश्न 8: यूपी जाति प्रमाण पत्र किस श्रेणी के लोगो के लिए जरुरी होता है ?

उत्तर: उत्तर प्रदेश में एससी,एसटी और ओबीसी श्रेणी के लोगो के लिए जाति प्रमाण पत्र जरुरी होता है।

प्रश्न 9: ऑनलाइन पोर्टल से सत्यापन करवाने से प्रदेश के नागरिकों को क्या लाभ प्राप्त हुए है?

उत्तर: ऑनलाइन पोर्टल से दस्तावेजों को सत्यापन कराने से नागरिकों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा और घर बैठे ही वे अब सभी सेवाओं का लाभ उठा सकते है।

ऊपर बताये गए लेख में हमने आपको उत्तर प्रदेश जाति प्रमाण पत्र से संबंधित सभी जानकारी जैसे की इसका उद्देश्य, इसके लाभ, इसे बनाने की ऑनलाइन और ऑफलाइन प्रोसेस, इसकी उपयोगिता आदि जानकारी विस्तारित रूप से प्रदान की है। यदि आप यूपी के निवासी है और आपको कई सारे जरूरी कार्यों के लिए जाति प्रमाण पत्र की आव्यशकता पड़ती है तो आप उपरोक्त जानकारी के मदद से इसे आसानी से बना सकते है।

Leave a Comment